Biography

करीना कपूर का जीवन परिचय | Kareena Kapoor biography in Hindi

 

करीना कपूर
करीना कपूर

करीना कपूर भारतीय फ़िल्म उद्योग बॉलीवुड की एक मशहूर अभिनेत्री है।अपने अभिनय के द्वारा ये हर किरदार को बड़ी जीवंतता के साथ निभा चुकी है। इन्होने कॉमेडी, रोमांटिक, क्राइम और ड्रामा सभी तरह के किरदार निभाए है। करीना कपूर बॉलीवुड के बड़े परिवार कपूर खानदान में जन्म लेने के बावजूद भी अपनी मेहनत और अभिनय क्षमता की वजह से बॉलीवुड में एक बड़ी जगह हासिल कर पाई है। साथ ही इन्होने बहुत सारे अवार्ड भी जीते है।करीना कपूर सिर्फ़ एक अभिनेत्री ही नहीं बल्कि एक डिजायनर और लेखिका भी है। करीना एक बहुत ही बोल्ड हीरोइन है।

करीना कपूर का जन्म एवं परिचय 

जीवन परिचय बिंदु  परिचय 
पूरा नाम करीना कपूर खान
अन्य नाम बेबो
पेशा फिल्म अभिनेत्री एवं फैशन डिज़ाइनर
जन्मतिथि 21 सितम्बर, 1980
जन्म स्थान  मुम्बई ,महाराष्ट्र, भारत
उम्र 41  साल
राष्ट्रीयता भारतीय
गृहनगर मुंबई, महाराष्ट्र, भारत
धर्म हिन्दू/मुस्लिम
जाति खत्री / पंजाबी
घर का पता फार्च्यून हाइट्स, बैंड्रा वेस्ट, मुंबई
राशि कन्या
वैवाहिक स्थिति विवाहित
किताब ‘डोंट लूज़ योर माइंड लूज़ योर वेट’

फिल्म इंडस्ट्री में करीना कपूरको काफी पहचान मिली हैं। इनके पिता फ़िल्म अभिनेता है, और इनके दादा जी फ़िल्म अभिनेता के साथ – साथ एक प्रोड्यूसर भी थे। इसलिए सब ने उनको भी करीना का नाम दे दिया। वो पिता के खानदान की तरफ से पंजाबी और माँ के खानदान की तरफ से सिन्धी और ब्रिटिश खानदान की हैं।ये अपने घर में  दूसरी संतान हैं पहली करिश्मा कपूर हैं। उनके नाम के बारे में बताया गया है कि करीना उनका नाम इसलिए रखा गया। क्योंकि उनकी माँ जब गर्भवती थी तब हमेशा एना करेनिना की किताबें पढ़ा करती थी। कपूर परिवार हमेशा हिन्दू धर्म को मानता हैं। इस तरह से करीना कपूर हर धर्म का मिला जुला रूप हैं। करीना कपूर

करीना कपूर
करीना कपूर

करीना कपूर का पारिवारिक जीवन 

पिता का नाम रणधीर कपूर
माता का नाम बबिता कपूर
दादा जी का नाम राज कपूर
नाना जी का नाम हरी शिवदासानी
चाचा का नाम ऋषि कपूर एवं राजीव कपूर
बहन का नाम करिश्मा कपूर
पति का नाम सैफ अली खान
बेटे का नाम तैमूर अली खान पटौदी
सास का नाम शर्मीला टैगोर
ससुर का नाम मंसूर अली खान
ननद का नाम सोहा अली खान एवं सबा अली खान

करीना कपूर की शिक्षा 

करीना कपूर की शुरुआती पढाई मुम्बई के ही एक नर्सिंग स्कूल में हुई हैं। जिसका नाम जमनाबाई नरसी स्कूल हैं। फिर वह देहरादून चली गई जहाँ पर उन्होंने वेलहेम गर्ल्स हाई स्कूल में अपना नामांकन कराया। करीना का मन ज्यादा पढाई में नहीं लगता था। इस इंस्टिट्यूसन में वे अपनी माँ को खुश करने के लिए जाया करती थीं। गणित के अलावा  किसी भी विषय में उनकी ज्यादा रूचि नहीं थी। करीना ने वेलहम से अपनी स्नातक की पढाई करने के बाद विले पारले जो की मुम्बई में है, मिथिला बाई कॉलेज से कॉमर्स स्नातक के लिए दो वर्ष की पढाई की।करीना कपूर

बाद में उन्हें कानून के बारे में जानने का उत्साह हुआ।तो उन्होंने अपना नामांकन मुम्बई के ही एक लॉ कॉलेज में करा लिया। जो कि गवर्मेंट लॉ कॉलेज था। उन्होंने कानून की पढाई में एक साल पूरा किया। लेकिन बाद में उनकी चाहत फिल्मों में जाने की होने लगी। जिस वजह से फिल्मों में अपने ज्ञान को बढ़ाने के लिए करीना कपूर फ़िल्म एंड टेलीविजन इंस्टिट्यूट ऑफ़ इण्डिया नामक संस्थान से जुड़ गई। फिर वो एफटीआईआई के सदस्य किशोर नामित से अभिनय सीखने लगी।

करीना कपूर
करीना कपूर

के करियर की शुरूआत

अभिनय के क्षेत्र में मीना कुमारी और नर्गिस के काम से प्रभावित होकर फिल्मों में आने के लिए प्रेरित हुईं।उनके पिता को फिल्मों में उनके घर की महिलाओं द्वारा काम करना पसंद नहीं था। उनका मानना था कि महिलाओं को परम्परागत रूप से पारिवारिक जिम्मेदारियां ही निभानी चाहिए।लेकिन उनकी माँ ने उनकी इस सोच का विरोध किया।  उनके संघर्ष का ही परिणाम था कि करिश्मा कपूर ने फिल्मों में काम किया।इस वजह से उनके माता – पिता दोनों अलग हो गए। करीना की माँ ने अपनी बेटियों के लिए बहुत संघर्ष किये। जिस वजह से फिल्मों में आने का रास्ता करीना के लिए आसान हो गया। फिर उनके काम को देखते हुए उनके पिता ने भी उन्हें इसके लिए अपनी सहमती दे दी।करीना कपूर

करीना कपूर का व्यक्तिगत जीवन 

इनकी शादी से पहले 2 सहअभिनेताओं के साथ अफेयर रह चुकी हैं। उनके नाम शाहिद कपूर एवं हृतिक रोशन हैं। इसके बाद इनका संबंध सैफ अली खान के साथ जुड़ा और 16 अक्टूबर 2012 को उन्होंने सैफ अली खान से शादी करने के बाद अपने नाम के आगे एक उपनाम जोड़ दिया। अब सभी इनको करीना कपूर खान के नाम से जानते हैं। सैफ अली खान से शादी करने के बाद उन्होंने शादी की रिसेप्सन पार्टी मुम्बई के ताज होटल में दी थी। उन्होंने अपने से 10 साल बड़े सैफ से शादी की जो  पहले से शादी शुदा थे। उनकी पहली बीवी अमृता सिन्हा थी। जिससे उनके दो बच्चे है. उन्होंने अपनी शादी के बाद हिन्दू रीति रिवाज में जो पति के खानदान का उपनाम जुड़ता है, उसे जारी रखा हैं।

वह बहुत ही चुलबुली स्वभाव की बचपन से ही हैं। करीना कपूर अपनी फिल्मों की व्यस्तता में भी सामाजिक कार्यों के लिए समय निकाल ही लेती है, वह कई तरह के चैरिटी शो का हिस्सा भी रही हैं। वह महिलाओं के लिए वीमेन सेफ्टी को बढ़ावा देती हैं। इसके साथ ही बच्चों की पढाई के लिए भी लोगों को प्रेरित करने का काम करती हैं।

करीना कपूर को पहले 2000 में राकेश रोशन की फ़िल्म ‘कहो न प्यार है’ मिली। जिसमे उनके हीरो राकेश रोशन के बेटे ऋतिक रोशन थे। बाद में करीना ने यह कहा कि वह फ़िल्म छोड़ दी। कि इस फ़िल्म में राकेश रोशन अपने बेटे को ज्यादा अहमियत दे रहे है. फिर करीना कपूर ने अपने फ़िल्मी करियर की शुरुआत रिफ्यूजी फ़िल्म से की थी। ,

जिसमे उनके हीरो अभिषेक बच्चन थे। यह जे.पी दत्ता की फ़िल्म थी। यह फ़िल्म 1971 में भारत पाकिस्तान की सीमा को रिफ्यूजी द्वारा लोगों को पार कराने पर आधारित फ़िल्म थी। इस फ़िल्म में करीना ने एक बांग्लादेशी लड़की ‘नाज’ के किरदार को निभाया था। ये फ़िल्म ज्यादा नहीं चली लेकिन इसमें करीना द्वारा किये गए अभिनय की तारीफे हुई और इस फ़िल्म के लिए उन्हें पुरस्कार भी मिला।

करीना कपूर
करीना कपूर

करीना कपूर को मिले अवार्ड और उपलब्धियां

साल फ़िल्म अवार्ड
2004 चमेली फ़िल्म फ़ेयर स्पेशल जूरी अवार्ड, आईआईएफए अवार्ड साल की स्टाइल दिवा, बॉलीवुड फ़िल्म अवार्ड- क्रिटिक्स अवार्ड बेहतरीन महिला
2008 जब वी मेट जी सीने पुरस्कार, गिल्ड अवार्ड बेहतरीन अभिनेत्री के लिए
2008 जब वी मेट स्टारडस्ट अवार्ड, आईआईएफए का पुरस्कार साल की बेहतरीन अभिनेत्री लिए, फ़िल्म फेयर अवार्ड
2010 कुर्बान स्टारडस्ट अवार्ड साल की बेहतरीन अभिनेत्री का
2010    – आईआईएफए का पुरस्कार साल की बेहतरीन अभिनेत्री लिए
2009    – स्टारडस्ट पुरस्कार, साल की महिला स्टाईल आइकॉन
2011 बॉडीगार्ड ऑन स्क्रीन सबसे बेहतरीन और मनोरंजक जोड़ी का पुरस्कार
2001 रिफ्यूजी फ़िल्म फेयर अवार्ड बेहतरीन महिला डेब्यू के लिए, जी सीने अवार्ड लक्स फेस ऑफ़ द इयर
2011 हम परिवार है फ़िल्म फेयर अवार्ड सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री
2007, 2005 ओमकारा और देव फ़िल्म फेयर क्रिटिक्स सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के लिए
2002    – जी सीने क्वीन का पुरस्कार,
2015 सिघम रिटर्न्स लोकप्रिय बेहतरीन अभिनेत्री
2016 बजरंगी भाईजान, लोकप्रिय बेहतरीन अभिनेत्री
2017 की एंड का सबसे अच्छी अभिनेत्री के लिए बी4यू अरब व्यूहर्स चॉइस अवार्ड
2017 उड़ता पंजाब सबसे अच्छी अभिनेत्री के लिए बी4यू अरब व्यूहर्स चॉइस अवार्ड ।
करीना कपूर
करीना कपूर

करीना कपूर का फ़िल्मी करियर 

2001 में, टोरंटो इन्टर नेशनल वेनिस में अशोका फ़िल्म और उसमें उनके अभिनय को सकारात्मक समीक्षा मिली।सबसे सफल उनकी फ़िल्म ‘कभी खुशी कभी गम’ थी। जिसमे उनके किरदार का नाम पूजा था। जिसको लोगों ने खूब पसंद किया। यह फ़िल्म करण जौहर द्वारा बनाई गईथी। इस फ़िल्म में उनके हीरो ऋतिक रोशन थे, इसके अलावा इस फ़िल्म में ओर भी बड़े-बड़े अभिनेता और अभिनेत्री थे जिसमे अमिताभ बच्चन, शाहरुख खान और काजोल भी थे।

यह फ़िल्म बहुत हिट रही, इसके साथ ही यह उस समय की भारत में पैसे बनाने वाली दूसरी सबसे बड़ी फ़िल्म बन गई थी। इस फ़िल्म में उनको सहायक अभिनेत्री के लिए बेस्ट अभिनेत्री का अवार्ड मिला। इस फ़िल्म के बाद से उनका नाम सफल अभिनेत्रियों में लिया जाने लगा। जिससे वे सबसे ज्यादा मेहनताना लेने वाली भारतीय फ़िल्म उद्योग की अभिनेत्री बन गई थी।

2006 में करीना कपूर की तीन फिल्मे आई। एक थी ‘36 चाइना टाउन’ एक थ्रिलर फ़िल्म थी, जिसमे उनके हीरो शाहिद कपूर थे। फिर उनकी फ़िल्म आई ‘चुप चुप के’ यह एक कॉमेडी फ़िल्म थी। इस फ़िल्म में भी उनके हीरो शाहिद कपूर ही थे। इसके साथ ही इस फ़िल्म में परेश रावल, सुनील शेट्टी और ओम पूरी आदि कई कलाकार थे। दोनों ही फ़िल्म कुछ खास नहीं हुई. फिर उनकी फ़िल्म आई ‘ओमकारा’, जिसमे शेक्सपियर की ऑथेलो के एक किरदार को दिखाया गया था.

यह फ़िल्म विशाल भारद्वाज जो कि एक विश्व स्तर के निदेशक है उनके द्वारा निर्देशित की गई थी। यह फ़िल्म उत्तर प्रदेश की राजनीति को लेकर बनाई गई थी। इस फिल्म को खूब देखा और इस फ़िल्म ने स्क्रीन अवार्ड के पुरस्कार को प्राप्त किया।करीना कपूर

करीना कपूर की फ़िल्म ‘जब वी मेट’ आई, जिसको इम्तियाज़ अली ने निर्देशित किया था. यह एक बहुत ही जाने माने निर्देशक है यह फ़िल्म 2007 में आई थी. इस फ़िल्म में करीना के हीरो शाहिद कपूर थे. इस फ़िल्म में करीना द्वारा अभिनीत किये किरदार को लोगों ने बहुत ज्यादा पसंद किया. इस फ़िल्म में उनके किरदार का नाम गीत था यह एक चुलबुली लड़की था  ।फ़िल्म ‘3 इडियट्स’ रही. यह फिल्म चेतन भगत द्वारा लिखी गयी किताब ‘फाइव पॉइंट समवन’ पर आधारित थी. इस फ़िल्म ने कमाई के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए थे।

साल 2011 में फिल्म बॉडीगार्ड आई जिसमे  हीरो सलमान खान थे। यह फिल्म एक मलयालम फिल्म की रीमेक थी। इस फिल्म को दर्शको को  ने उतना प्यार नहीं दिया । मगर  इस फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर पैसों का व्यापार खूब किया, फिल्म सफल रही। यह उस साल की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्म थी। इस फिल्म ने 1.5 लाख मिलियन डॉलर कमाए। फिरफिल्म आई ‘रावन’, जिसके हीरो थे शाहरुख़ खान. यह फिल्म भारत में बनाई गयी सबसे महंगी फिल्म थी। इस फिल्म ने अच्छी कमाई की। करीना अपनी हर एक नई फिल्म से सफलता के रास्ते पर बढ़ती गयी।करीना कपूर

करीना कपूर
करीना कपूर

करीना कपूर का शादी के बाद का करियर

2012 में  एक फिल्म आई ‘एक मैं और एक तू’. इस फिल्म में करीना के साथी  इमरान खान थे।यह फिल्म सफल रही। आलोचकों ने भी इस फिल्म को सराहा। इसी साल अक्टूबर में इन्होने सैफ अली खान के साथ विवाह किया। इसके बाद इनकी फिल्म आई ‘एजेंट विनोद’, जिसमे इन्होंने अपने हसबेंड के साथ काम किया। इस फिल्म को श्री मान राघवन ने निर्देशित किया था। करीना ने इसी साल एक और फिल्म की जिसका नाम”‘तलाश ” था।इस फिल्म में इनके साथी कलाकार थे आमिर खान और रानी मुखर्जी. इस फिल्म के बारे में यह कहा गया कि यह फिल्म अच्छी होने के साथ ही भावनाओंको  मिश्रित रूप है।यह फिल्म भी करीना के हिट फिल्मों में शुमार हो गई।

2014 में फिल्म आई ‘सिंघम रिटर्न’,  2011 की फिल्म ‘सिंघम’ का सिक्वेल था।फिर 2015 में फिल्म आई ‘बजरंगी भाईजान’. इस फिल्म में इनके हीरो सलमान खान थे। दोनों ही फिल्म सफल रही। बजरंगी भाईजान ने 3.20 अरब डॉलर की कमाई की। यह फिल्म साल की सबसे बेहतरीन फिल्म साबित हुई. इस फिल्म को सबसे ज्यादा चर्चा  और मनोरंजक होने के लिए 63वा नेशनल फिल्म अवॉर्ड  मिला ।

2015 में ही इन्होंने फिल्म ‘ब्रदर्स’ में भी काम किया। जिसमे इनका किरदार का नाम मैरी था।इसके बाद सन 2016 में इन्होने अर्जुन कपूर के साथ फिल्म ‘की एंड का’ में काम किया था। इस फिल्म में लड़के और लड़की के जीवन को बिलकुल उल्टा दिखाया गया था। यह फिल्म बड़े पर्दे पर सफल रही. इसी साल इन्होने फिल्म ‘उड़ता पंजाब’ भी की. यह फिल्म हिट थी।

Read  Also –करीना कपूर भारतीय फ़िल्म उद्योग बॉलीवुड की एक मशहूर अभिनेत्री है।

Read  Also-तमिल सिनेमा में 65 से अधिक फिल्मों में काम किया है । जिस कारण वह तमिल के सबसे अधिक भुगतान।

 

 

 

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button